Mantra for pregnant mother- गर्भ की रक्षा के लिए उपयोगी मंत्र


Image result for गर्भ की रक्षा के लिए उपयोगी मंत्रगर्भ की रक्षा के लिए उपयोगी मंत्र

मां अपने बच्चे की सुरक्षा व रक्षा के हर  कदम उठा सकती है। मां के लिए उसके बच्चे से बढ़कर इस दुनिया में कुछ भी नहीं है। मां बच्चे को जन्म देने के लिए अपनी जान तक जोखिम में डाल लेती है। रह मां यही चाहती है कि उसकी होने वाली संतान स्वस्थ और भाग्यशाली हो। संतान के जीवन में कोई परेशानी न आए। वैसै तो ज्योतिष शास्त्र में कई अचूक मंत्र हैं जिसके विधिवत जप करने से होने वाली संतान की गर्भ में रक्षा हो जाती है। इस मंत्र का जाप मां स्वयं भी कर सकती है व योग्य ब्राह्मण से भी करवा सकती है। इस मंत्र को भोज पत्र में लिखवा कर अपनी बाजूू या अपने पास भी रख सकती है।  Read More- When will i Get pregnant horoscope?
garbh raksha mantra- गर्भ की रक्षा के लिए उपयोगी मंत्र
जिस महिला को गर्भ धारण में असुविधा हो रही हो या गर्भ बार-बार गिर जाता हो,उस स्त्री की बाईं बाजू अथवा कमर में यंत्र बांध देने से गर्भ स्थिर हो जाता है। इस यंत्र को भोजपत्र पर रविवार के दिन मूला नक्षत्र में अनार की कलम से लिखकर तांबे के तबीज में रखकर बांधना चाहिए। इस मंत्र को 3 बार जरूर पढऩा चाहिए।

"ओम बिन्दु संयुक्तं नित्यं ध्यायन्ति योगिन:, कामद् मोक्षदं ओंकाराय नमो नम:।।"

यंत्र आप हमसे मंगवा सकते हैं। आपको यंत्र घर पर भेज दिया जाएगा।

इस मंत्र व यंत्र के उपयोग से गर्भ स्थिर हो जाता है, गर्भ को कोई नुक्सान नहीं होता।

एक अन्य अचूक मंत्र :-
"रक्ष रक्ष गणाध्यक्षः रक्ष त्रैलोक्य नायकः।
भक्त नाभयं कर्ता त्राताभव भवार्णवात्।।"
 मंत्र व जाप विधि :-
इस मंत्र के लिए मां को शिव जी की संतान भगवान गणेश की मूर्ति लानी है। इसी मूर्ति या प्रतिमा के सामने बैठकर मंत्र जाप करना है।
मंत्र जाप करने के बाद गणेश जी को कम से कम दो मोदक का भोग भी लगाना है। गर्भवती मां इस बात का ध्यान रखे कि यह मोदक उसी के हाथों से बने हों और इसे ग्रहण भी केवल और केवल उसी को करना है। मोदक का यह प्रसाद अन्य किसी भी परिवार के सदस्य को नहीं देना है।
इस मंत्र का प्रतिदिन कम से कम एक माला, यानी कि 108 बार जाप करना है।

नोट- उक्त जानकारी धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर पेश किया गया है।

Call us: +91-98726-65620
E-Mail us: info@bhrigupandit.com
Website: http://www.bhrigupandit.com
FB: https://www.facebook.com/astrologer.bhrigu/
Pinterest: https://in.pinterest.com/bhrigupandit588/
Twitter: https://twitter.com/bhrigupandit588

Google+: https://plus.google.com/u/0/108457831088169765824

Comments

astrologer bhrigu pandit

नींव, खनन, भूमि पूजन एवम शिलान्यास मूहूर्त

बच्चे के दांत निकलने का फल

मूल नक्षत्र कौन-कौन से हैं इनके प्रभाव क्या हैं और उपाय कैसे होता है- Gand Mool 2021